अमेज़न के सीईओ की भारत यात्रा पर व्यापारी करेंगे विरोध

विरोध के कार्यक्रम की जानकारी कैट 12 जनवरी को घोषित करेगा

अमेज़न के सीईओ की भारत यात्रा पर व्यापारी करेंगे विरोध

A PHP Error was encountered

Severity: Notice

Message: Undefined variable: adscodetext

Filename: post/post.php

Line Number: 152

Backtrace:

File: /www/wwwroot/cityairnews.com/application/views/post/post.php
Line: 152
Function: _error_handler

File: /www/wwwroot/cityairnews.com/application/controllers/Home_controller.php
Line: 3419
Function: view

File: /www/wwwroot/cityairnews.com/application/controllers/Home_controller.php
Line: 264
Function: post

File: /www/wwwroot/cityairnews.com/index.php
Line: 319
Function: require_once

लुधियाना: अमेज़ॅन के सीईओ जेफ बेजोस की भारत की आगामी भारत यात्रा के अवसर पर देश भर के व्यापारी विरोध प्रदर्शन करेंगे ।

कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के राष्ट्रीय महामंत्री श्री प्रवीन खंडेलवाल ने जेफ़ बेजोस की यात्रा पर टिपण्णी करते हुए कहा की जेफ़ बेजोस की यात्रा की उनकी यात्रा कुछ और नहीं है बल्कि सरकार को यह भरमाने की चेष्टा है की ऐमज़ॉन का ई कॉमर्स पोर्टल छोटे व्यापारियों को व्यापार करने के बड़े अवसर प्रदान करता है।

श्री खंडेलवाल ने कहा की कैट द्वारा सरकार को अमेज़न की कारगुजारियों एवं एफडीआई पालिसी के घोर उल्लंघन के बारे में सबूतों सहित पहले ही अवगत करा दिया गया है , इस दृष्टि से व्यापारियों को नहीं लगता की सरकार उनके तर्कों से सहमत होगी।

जेफ बेजोस की यात्रा पर टिप्पणी करते हुए, श्री खंडेलवाल ने कहा कि वह विशुद्ध रूप से छोटे खुदरा विक्रेताओं को सशक्त बनाने की एक झूठी कहानी बनाने के लिए आ रहे हैं और अगर वह प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी से मिलते हैं, तो वे अमेज़ॅन की खराब प्रथाओं और अमेज़न द्वारा  एफडीआई नीति के उल्लंघन करने पर तथ्यहीन तर्कों एवं छोटे व्यापारियों को समृद्ध बनाने की झूठी कहानी गड़ेंगे। 

श्री खंडेलवाल ने कहा की अमेज़ॅन द्वारा समभाव नाम से सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है जिस में जेफ बेजोस व्याख्यान देंगे यह एक सोची समझी रणनीति का हिस्सा है क्योंकि कैट ने अमेज़ॅन और फ्लिपकार्ट के खिलाफ पहले से ही एक सफल राष्ट्रव्यापी अभियान शुरू किया है और इस तथ्य को स्थापित किया है कि अमेज़ॅन और फ्लिपकार्ट दोनों नीति और कानून के आदतन अपराधी हैं, जिन्हें कई बार विभिन्न देशों में विश्वास विरोधी नीतियों के लिए दोषी ठहराया गया है। अमेज़न एवं फ्लिपकार्ट आर्थिक आतंकवादी है जो भारत के ई-कॉमर्स और खुदरा व्यापार को नष्ट करने के लिए प्रतिबध्द है और भारत के खुदरा व्यापार और ई-कॉमर्स बाजार पर नियंत्रण करने  प्रभुत्व और एकाधिकार बनाने के लिए सभी रास्ते अपना कर देश में  क्रोनी पूंजीवाद बनाने की कोशिश कर रहे हैं और इसीलिए वो लागत से भी कम मूल्य पर माल बेचना, भारी डिस्काउंट देना, सामान की एक्सक्लूसिविटी और   तरजीही विक्रेता प्रणाली के माध्यम से भारत में अपना व्यापार कर रहे हैं।

श्री खंडेलवाल ने कहा की बड़ा सवाल यह है कि कथित रूप से खुदरा विक्रेताओं को सशक्त बनाने के लिए संभव  नामक एक सम्मेलन आयोजित करने की आवश्यकता क्या है। अमेज़ॅन के पास अपने पोर्टल्स पर पहले से ही 5 लाख रिटेलर्स हैं, जो वे दावा करते हैं। उन्हें यह घोषणा करनी चाहिए कि मौजूदा खुदरा विक्रेताओं को उनके पोर्टल  पर सशक्त बनाने के लिए उन्होंने अब तक क्या किया है। पिछले 5 साल से ये 5 लाख छोटे रिटेलर सालाना कितना कारोबार कर रहे हैं। क्या उनमें से कोई भी पिछले 5 वर्षों के दौरान शीर्ष 20 विक्रेताओं के रूप में सूचीबद्ध है। इन सवालों के जवाब अमेज़न के व्यापार करने की मंशा को उजागर करेंगे। श्री खंडेलवाल ने कहा कि यह गलत काम को सही साबित करने के लिए सिर्फ एक आई वॉश है।

जेफ़ बेजोस के भारत आगमन के दिन देश भर के व्यापारी देश भर में राष्ट्रीय विरोध दिवस मनाने की योजना बना रहे हैं, जिसके तहत देश के सभी राज्यों के अलग-अलग शहरों में व्यापारियों द्वारा हल्ला बोल रैली और धरने आयोजित कर जेफ़ बेजोस और अमेज़न का जोरदार विरोध होगा। विरोध के कार्यक्रम की जानकारी कैट  12 जनवरी को घोषित करेगा।